पथरिया में लाल पट्टी वालों पर हमले से सनसनी-

दमोह। पथरिया क्षेत्र में भगवती मानव कल्याण संगठन के कार्यकर्ताओं पर हुए जानलेवा हमले में करीब एक दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हैं। जिन्हें जिला चिकित्सालय रेफर किया गया है। इस हमले के पीछे शराब माफिया की शह बताई जा रही है। हमला करने वालों में लक्ष्मण व भरतु रजक के साथ करीब 50 लोगों के होने की बात कही गई है।

घटना की जानकारी लगने पर भगवती मानव कल्याण संगठन से जुड़े लोगों में आक्रोश बना हुआ है। वहीं घायलों को पथरिया के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाकर इलाज हेतु भर्ती कराया गया। जानकारी लगते ही बड़ी संख्या में संगठन कार्यकर्ताओं की भीड़ एकत्रित हो गई। पुलिस ने अस्पताल पहुंचकर घायलों के बयान दर्ज किए है।

घायलों ने पुलिस को बताया कि उनके साथ मारपीट धारदार हथियारों और लाठियों से हुई है । आरोपीयो में आदतन अपराधी लक्ष्मण रजक और भरत रजक के नाम मुख्य है। भरत रजक 302 में जमानत पर बताया गया है। पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध कर के आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

इस जानलेवा हमला की वारदात में भगवती मानव कल्याण संगठन के राजाराम नामदेव, खिलान पटेल, रामसिंह विश्वकर्मा, रामसहाय, बाबूलाल, राजेश, सहित कई लोग घायल हुए हैं। पथरिया से 4 किलोमीटर दूर जमुनिया फाटक के पास की है। जहां पर पहले से घात लगाए एकत्रित तत्वों ने शराब माफिया के इशारे पर यह जानलेवा हमला किया।

पथरिया थाना पुलिस द्वारा घटनास्थल का निरीक्षण कर जांच कार्यवाही की जा रही है। घटनास्थल पर संगठन के कार्यकर्ताओं की करीब 8 मोटरसाइकिल क्षतिग्रस्त मिली हैं। एवं संगठन के कार्यकर्ताओं पर पत्थर पटक-पटक कर की गई है मारपीट जान से मारने के उद्देश्य से हमले की बात सामने आ रही है। पथरिया से सुरेश नामदेव की रिपोर्ट