दमोह से कांग्रेस टिकट की बाजी राहुल के हाथ मे-

देहली। दीपावली की रात मध्यप्रदेश के कांग्रेस प्रत्याशियों की चौथी सूची जारी होते ही कांग्रेस टिकट के दावेदारों में कहीं खुशी कहीं गम जैसे माहौल बनते नजर आए हैं। इस सूची में जहां टिकट वितरण के जरिए संतुलन बनाने का कांग्रेस ने प्रयास किया है वही युवा चेहरों को तवज्जो दी गई है। इस सूची में दमोह से राहुल सिंह तथा हटा से हरिशंकर चौधरी के नाम की घोषणा की गई है जबकि पथरिया सीट पर फैसला अभी भी नहीं हो पाया है।

 

कांग्रेस की चौथी सूची में  29 प्रत्याशियों के  नामों की घोषणा की गई है जिनमैै सर्ववाधिक चौंकाने वाला नाम मध्यप्रदेश के कद्दावर मंत्री और लगातार नौवीं बार दमोह विधानसभा से चुनाव मैदान में उतरे वित्त मंत्री जयंत मलैया के खिलाफ युवा चेहरा राहुल सिंह को टिकट दिया जाना है। हिंडोरिया निवासी राहुल सिंह जिला पंचायत के सदस्य है। कांग्रेस टिकट के लिए पहली बार दावेदारी करने के साथ  उभरकर सामने आए और सभी दावेदारों को पीछे छोड़ दिया।

दमोह विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस टिकट के दावेदारों में पूर्व मंत्री राजा पटेरिया पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मधु मिश्रा, पूर्व मंडी अध्यक्ष रतन चंद जैन जैसे नाम चल रहे थे। इस बीच में राहुल सिंह का नाम उभरकर सामने आया था। जिसके बाद अंतिम निर्णय राजा पटेरिया और राहुल सिंह के बीच में होना था। 

कल यह दोनों नेता दमोह में कुछ जगह साथ घूमते उठते बैठते नजर आए थे। वही नामांकन पत्र भी निकलवा चुके थे। जिससे तय हो गया था कि इन दोनों में से कोई एक कांग्रेस का प्रत्याशी घोषित होगा और हुआ भी यही।

मंत्री मलैया को दे सकते हैं राहुल तगड़ी चुनौती-

राहुल सिंह का दमोह विधानसभा के लोगों से ज्यादा सतत संपर्क नहीं होने के बाद भी भाजपाई खेमे में इस बात की चिंता बनी हुई थी कि कहीं राहुल को टिकट ना मिल जाए। अब राहुल को टिकट मिल गई है तो उम्मीद की जा रही है कि वे मंत्री जयंत मलैया को तगड़ी टक्कर देंगे।

हालांकि इनके पास क्षेत्र की जनता के पास जाने और संपर्क करने के लिए काफी कम समय बचा है। वहीं कांग्रेस की गुटीय राजनीति और भीतरघात से भी इनको जूझना होगा। शहरी क्षेत्र में संपर्क की कमी के हालात में इनका चुनाव इस बात पर भी निर्भर करेगा किए चंचला लक्ष्मी का उपयोग कितना करते हैं। फिलहाल इतना ही, जल्द मुकाबले की समीक्षा के साथ फिर मिलते हैं। अटल राजेंद्र जैन की रिपोर्ट